खाली हथेली – डॉ सुदर्शन

खाली हथेली तुम कुछ मांगती नहीं थी – न तुम्हें चाहिये था, फिर भी तुम चाहती…